जलविरोधी

पत्ते की जलविरोधी सतह पर ओस की बूंद अपने-आप को समेटकर गोलाकार हो जाती है

जलविरोधी (hydrophobic) या जलविरागी ऐसा अणु या आण्विक इकाई होती है जो जल को स्वयं से दूर रखने की चेष्टा प्रतीत करता हुआ लगता है, यानि जल से आकर्षित होने की बजाय अपकर्षित प्रतीत होता है। ध्यान योग्य है कि यह वास्तव में जल से दूर नहीं रहता बल्कि जल के अणु एक दूसरे से आकर्षित होते हैं और जलविरोधी पदार्थों से नहीं, जिस से जल अपने-आप में सिकुड़कर जलविरोधी पदार्थों को अपने से अलग कर लेता है। इस से विपरीत जलस्नेही पदार्थ पानी के अणुओं से आकर्षित होते हैं।[1][2]

अन्य भाषाओं
العربية: كاره للماء
asturianu: Hidrófobu
bosanski: Hidrofobnost
dansk: Hydrofob
English: Hydrophobe
Esperanto: Hidrofoba
español: Hidrófobo
فارسی: آب‌گریزی
galego: Hidrófobo
Bahasa Indonesia: Hidrofobik
日本語: 疎水性
한국어: 소수성
lumbaart: Idrofobia
Bahasa Melayu: Hidrofobik
Nederlands: Hydrofoob
srpskohrvatski / српскохрватски: Hidrofobnost
chiShona: Chinyenyamvura
српски / srpski: Hidrofobnost
svenska: Hydrofob
Türkçe: Hidrofobi
українська: Гідрофобність
اردو: آبگریزی
Tiếng Việt: Chất kị nước
中文: 疏水性